Jameel Attari

About us

जमील अत्तारी क्या है?

       जमील अत्तारी एक ब्लाॅगिंग साइट है। इस साइट में विभिन्न प्रकार के FREE कोर्स के साथ ही विभिन्न प्रकार के विषयों पर जानकारी दी जाती है।जमील अत्तारी से हमने हिन्दी भाषा में सामग्री की इंटरनेट पर उपलब्ध करवाने की कोशिश की है।  

जमील अत्तारी में विभिन्न प्रकार के कोर्स 
  • Accounting Course
  • Tally Prime
  • Ms-Excel
  • Ms-Word
  • Ms-PowerPoint

जमील अत्तारी में विभिन्न विषय जिन पर जानकारी लिखी जाती है :-
  • अलग-अलग प्रकार के सरकारी दस्तावेज जैसे:- आधार कार्ड, वोटर कार्ड, पेन कार्ड और दुसरे दस्तावेज आदि के बारे में जानकारी और उन्हें बनाने में लगने वाले कागजात
  • शिक्षा, शिक्षा से सम्बन्धित योजनाओं, छात्रवृत्ति और करियर के बारे में जानकारी
  • विभिन्न प्रकार की Full Form
  • ई-मित्र, CSC के बारे में जानकारी और गाइड
  • विभिन्न प्रकार की पेंशन के बारे में जानकारी
  • राजस्थान सरकार और केन्द्र सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न प्रकार की योजनाओं के बारे में जानकारी
  • रोजमर्रा में काम आने वाली जानकारियां
  • सामान्य ज्ञान से सम्बन्धित जानकारियां
  • बैंकिग के बारे में जानकारी
  • व्यवसाय के बारे में जानकारी
  • भारत में लगने वाले विभिन्न प्रकार के टैक्स के बारे में जानकारी
  • सोशियल मीडिया के बारे में जानकारी
  • इंटरनेट के बारे मे विभिन्न प्रकार कीं जानकारी
  • खुद को मोटिवेट करने के लिए विभिन्न प्रकार के ब्लाॅग।

       अभी तक आपने ये जाना के जमील अत्तारी में आप क्या-क्या पढ सकते है। अब हम आपको बताते हैं कि मैं ब्लाॅगर कैसे बना।

       मेरा नाम जमील अत्तारी है। मै राजस्थान के नागौर शहर का रहने वाला हूं। मैने एम0डी0एस0 यूनिवर्सिटी, अजमेर से M.Com (ABST), M.A. (Urdu) और PGDCA  की है। मैनें 13 साल श्रमिक के रूप में और 15 साल शिक्षक का कार्य किया। समाजसेवक के भेष में एक कपटी और खुदगर्ज इंसान से आत्म सम्मान को ठेस पहुंचने पर शिक्षण कार्य छोड़ दिया। आज में जमील अत्तारी ब्लाॅग का ओनर हूं। 

Name :- Jameel Attari
Designation:- Director
Facebook:- Click on Jameel Attari
Instagram :- Click on Jameel Attari
Twitter :- Click on Jameel Attari
Linkedin:- Click on Jameel Attari 
Pinterest :- Click on Jameel Attari
Mail :- Contact.Jameelattari1792.com


मैं एक ब्लाॅगर कैसे बना

       जैसा कि मैंने आपको बताया कि मैने 15 साल शिक्षण कार्य किया।  आत्मसम्मान को इतनी ज्यादा ठेस पहुंची कि अब शिक्षण कार्य से मन बिल्कुल उचट गया। लेकिन शिक्षण कार्य की लत लग जाने के कारण ब्लागिंग को चुना। अब कोशिश करूंगा जो मैने सीखा और सीखुंगा जमील अत्तारी द्वारा आम लोगो तक पहुंचाने की कोशिश करूंगा।

किस तरह बना जमील अत्तारी ब्लाॅग

         मै शिक्षण कार्य एक शौक और प्यार के रूप में करता था। मुझे पढाना बहुत अच्छा लगता था। जिस मोहल्ले मे मैं रहता हूं वहां लोग कम पढें-लिखें है। मै हमारे मोहल्ले को पढाना चाहता था। लेकिन एक पढे-लिखे बहुत ही बेवकूफ और स्वार्थी इंसान के हत्थे चढने से मुझे शिक्षण कार्य छोड़ना पड़ा। शिक्षण कार्य छोड़ने के बाद बहुत उदास रहने लगा क्योंकि शिक्षण कार्य को मैं एक जाॅब के रूप में नहीं करता था। बहुत वक्त बाद ब्लाॅग का आइडिया आया। आखिर जमील अत्तारी ब्लाॅग मैंने 2020 में बनाया। 

कैसे मैंने जाॅब छोड़ने का फैसला किया

       1992 में मैने घर के हालात खराब होने की वजह से श्रमिक के रूप में कार्य करना शुरू किया। 2005 में मैने ग्रेजुएशन करने के बाद 2005 में ही शिक्षण कार्य शुरू कर दिया। पहले कुछ सालों तक उच्च प्राथमिक स्तर  तक अध्यापन कार्य किया फिर कम्प्यूटर और काॅमर्स पढाना शुरू किया।
       अध्यापन के दौरान ही जिन्दगी की सबसे बड़ी गलती कर बैठा। उच्च प्राथमिक स्तर में अध्ययन के दौरान के सहपाठी के कहने पर एक सोसायटी द्वारा संचालित विद्यालय में शिक्षण कार्य शुरू कर दिया। जो कि कहने को तो सामाजिक सोसायटी द्वारा संचालित विद्यालय था पर था एक व्यक्ति विशेष का। मेरी जिंदगी के 6 साल मैने वहां बर्बाद कर दिये। ये 6 साल मेरे जिन्दगी के सबसे बुरे वक्त के रूप में याद रहेंगें। वह व्यक्ति लगातार मेरे आत्मसम्मान को ठेस पहुंचाता रहा। आखिर मै शिक्षण कार्य से ही मेरा मन उचट गया और मैंने जाॅब छोड़ दी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ